लाडनूँ में प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति का सफल उपक्रम- आचार्य महाप्रज्ञ नेचुरोपैथी सेंटर जहां किसी मरीज के लिए निराशा की कोई जगह नहीं है

लाडनूँ,15 जून 2024। जीवन की भागदौड़ के बीच व्यक्ति अपने शरीर की तरफ पूरा ध्यान नहीं दे पाता है और फिर फास्ट फूड के ट्रेंड और बाजारू खाद्य वस्तुओं की शुद्धता के अभाव ने व्यक्ति की शरीरिक क्षमताओं को प्रभावित किया है। इसके अलावा हर छोटी-मोटी व्याधि के लिए ऐलोपैथिक दवाओं का सेवन भी शरीर के लिए नुकसानदायक सिद्ध होता है। तात्कालिक लाभ के लिए बीमारी को जड़ से समाप्त करने के बजाय उसे गंभीर बना डालते हैं। अंग्रेजी दवाओं का साइड इफेक्ट व्यक्ति को बीमारियों की गंभीरता को बढावा ही देते हैं। साइड इफेक्ट और स्वास्थ्य के लगातार गिरते जाने की चिंता के कारण अब प्राकृतिक चिकित्सा व योग की ओर सहज ही रूझान पैदा होने लगा है। प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति शारीरिक, मानसिक और आत्मिक पोषण प्रदान करती है और सहज रूप से व्यक्ति आरोग्य प्राप्त कर सकता है। इसी कारण नेचुरोपैथी की ओर लोगों का आकर्षण बढ रहा है।

बिना दवा के कायाकल्प का उपक्रम

लाडनूँ में जीर्ण और दुःसाध्य रोगों के सहज व प्राकृतिक तरीके से उपचार की सुविधा यहां जैन विश्वभारती संस्थान विश्वविद्यालय के उपक्रम के रूप में स्थापित आचार्य महाप्रज्ञ नेचुरोपैथी केन्द्र में उपलब्ध है। यह बिना दवा के प्राकृतिक पद्धति से कायाकल्प और उपचार हेतु श्रेष्ठ उपक्रम है। इसमें श्रेष्ठतम आधुनिक प्राकृतिक चिकित्सा पद्धतियों- जकूजी, हाइड्रो-थैरेपी, कोलन-थैरेपी, मड-थैरेपी, सोना बाथ, स्टीम बाथ, स्पाइन मसाज, योग, ध्यान आदि के माध्यम से रोगी को स्वस्थ बनाने का कार्य किया जाता है। इसके लिए इस नेचुरोपैथी केन्द्र में अनुभवी डॉक्टरों की टीम उपलब्ध हैं और इलाज के लिए अत्याधुनिक उपकरण एवं सुविधाएं मौजूद हैं, जिनका लाभ मरीज उठा सकते हैं। यहां उत्कृष्ट आवास व्यवस्था भी उपलब्ध करवाई गई है। आरामदायक प्रवास व आतिथ्य के साथ यहां दैनिक नाश्ता, स्वास्थ्य पेय और शुद्ध शारीरिक आवश्यकताओं के अनुरूप स्वादिष्ट भोजन की व्यवस्थाएं उत्कृष्ट हैं। यहां प्राकृतिक मनोरम हरीतिमा युक्त वातावरण और शुद्ध हवा-पानी भी मरीज को तंदुरूस्त बनाने में सहायक सिद्ध होते हैं। मरीज ही नहीं उसके साथ आने वाला परिचारक भी इसका आनन्द उठा कर स्वस्थ व ऊर्जावान महसूस कर सकता है। केन्द्र में व्यक्ति के सम्पूर्ण कायाकल्प की व्यवस्था है। यहां महिलाओं एवं पुरूषों के लिए पृथक्-पृथक् उपचार व्यवस्थाएं की गई है।

सफलतम उपचार से जमा लोगों का विश्वास

मरूभूमि के इस सुदर आंचल में महिला शिक्षा, प्राच्यविद्याओं की शिक्षा और व्यावसायिक शिक्षा के प्रसार के लिए समर्पित होकर निरन्तर प्रगति के सोपान छूते विश्वविद्यालय जैन विश्वभारती संस्थान की ओर से प्राकृतिक व योग चिकित्सा के क्षेत्र में बढाए गए ये कदम श्रेष्ठ साबित हो रहे हैं। आचार्य महाप्रज्ञ प्राकृतिक चिकित्सा केन्द्र समूचे अंचल के लोगों के लिए एक सौगात बन चुका है। यहां बहुत सारे दुःसाध्य रोगों का सफलतम उपचार किया गया है। यहां विविध प्राकृतिक उपचारों के साथ आहार की पौष्टिकता और रोगोपचार में सहायक बनाया गया है, इससे शरीर के लिए आवश्यक समस्त तत्वों का संतुलन बना रहता है और शीघ्र स्वास्थ्य लाभ होता है। शरीर को सक्रिय व स्वस्थ बनाने के लिए यहां हाईड्रोथेरेपी, मालिश, योग और ध्यान एवं अन्य प्राकृतिक चिकित्सा सिस्टम का उपयोग किया जाता है। यहां गठिया, दमा, ब्रोंकाइटिस, कोलाइटिस, मधुमेह, हृदय की समस्याओं, मोटापा, अम्लता, पीलिया, सांस की बीमारियों और स्पोंडीलाईटिस आदि बीमारियों का उपचार निसर्गिक पद्धति से किया जा रहा है।

पूर्ण विज्ञान-सम्मत उपचार सिस्टम

आचार्य महाप्रज्ञ नेचुरोपैथी सेंटर में डायटेटिक्स, वानस्पतिक चिकित्सा, होम्योपैथी, उपवास, व्यायाम, जीवनशैली परामर्श, विषहरण और केलेशन, नैदानिक पोषण, हाइड्रोथेरेपी, प्राकृतिक उपचार, आध्यात्मिक उपचार, पर्यावरण मूल्यांकन, स्वास्थ्य सहित प्राकृतिक उपचारों का उपयोग करके रोग निदान, उपचार और इलाज को विज्ञानसम्मत बनाया गया है। व्यक्ति को अपनी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के मूल कारण के बारे में शिक्षित करके, स्वस्थ रहने के लिए स्वस्थ परिवर्तनों के बारे में जागरूक करने, आहार और जीवन शैली में बदलाव करने की दिशा में मार्गदर्शन से पूर्ण स्वास्थ्य लाभ के लिए तैयार किया जाता है। यहां आयोजित किए गए विभिन्न चिकित्सा शिविरों निसर्ग उपचार विधि से काफी लोगों ने यहां उपलब्ध सभी चिकित्सा सेवाओं का पूर्ण लाभ प्राप्त किया है। शिविरार्थियों ने अपने अनुभवों में इस चिकित्सा पद्धति और यहां की व्यवस्थाओं-सुविधाओं की सराहना की हैै। इन शिविरार्थियों ने अपने शरीर को स्वस्थ पाया और अपने घर पर भी नियमित अभ्यास करते रहने का संकल्प किया।

मरीज उठा पाते हैं इन सुविधाओं का पूरा लाभ

यहां निसर्गिक चिकित्सा पद्धति के आधुनिकतम उपकरणों व सुविधाओं की व्यवस्था के साथ सुप्रशिक्षित चिकित्सक व नर्सिंग स्टाफ उपलब्ध है। केन्द्र में महिला व पुरूष तीन डाॅक्टर्स के साथ एक डाईटीशियन, तीन थैरेपिस्ट, एक योग प्रशिक्षक, एक हाउस-कीपिंग सुपरवाईजर एवं प्रशासक की सेवाएं लगातार मिल रही हैं। इनके सहयोग से यहां बाॅडी मसाज, स्टीम व सोना बाथ, मड पैक बाथ, सैंड फोर्मेशन, एक्यूपंक्चर, फेसियल व लोकल स्टीम, शिरोधारा, होट व कोल्ड कम्प्रेस एड पैक तथा थ्रोट, एब्डोमिन, आर्म, नी, लैग पैक, नेचुरल, होट एंड कोल्ड हिप बाथ, एनिमा, गेंजी, टर्मरिक, नीम बाथ, जकुजी व सर्कुलर जेट हायड्रोथैरेपी, कटि स्नान, जानु स्नान, ग्रीवा बस्ति आदि की सुविधाएं मरीजों को उपलब्ध करवाई जा रही है। केन्द्र में डीलक्स और सेमी-डीलक्स कॉटेज के साथ 50 शैयाओं की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है। यहां हाइड्रोथेरेपी, मैनिपुलेटिव थेरेपी, एक्यूपंक्चर, फिजियोथेरेपी, मड थेरेपी, सुगंध और मालिश थेरेपी, रंग और चुंबकीय थैरेपी, पोषण और आहार की उपचार पद्धति के साथ व्यायामशाला और हर्बल और प्राकृतिक भोजन प्रदान करने वाली भोजनशाला की सुविधा भी उपलब्ध है।

Read 269 times

Latest from