Search

M.A. Jainology (Previous)

Text Books

Sr. Paper Topic
01. Paper-I जैन इतिहास, संस्कृति, साहित्य एवं कला
02. Paper-II जैन तत्त्व मीमांसा एवं जैन आचार मीमांसा
03. Paper-III ध्यान योग एवं कर्म मीमांसा
04. Paper-IV जैन ज्ञान मीमांसा एवं जैन न्याय

 

 

Video Lectures

Sr. Paper Unit/Section Topic
01. Paper-1 Unit-1 प्रागैतिहासिक काल में जैनधर्म
02. Paper-1 Unit-1 महावीरकालीन भारत एवं प्रशासनिक परिवेश
03. Paper-1 Unit-2 जैन संस्कृति की विशेषताएँ
04. Paper-1 Unit-2 पूजन-विधान की आवश्यकता
05. Paper-1 Unit-2 जैन परम्परा में चित्रकला
06. Paper-1 Unit-3 जैन तीर्थस्थान
07. Paper-1 Unit-3 जैन मूर्तिकला का इतिहास
08. Paper-1 Unit-3 जैन परम्परा में चित्रकला
09. Paper-1 Unit-3 चित्रकला के भेद
10. Paper-1 Unit-3 स्तूप, गुफा और मन्दिर
11. Paper-1 Unit-3 जैन मन्दिर
12. Paper-1 Unit-4 प्राकृत जैन साहित्य एवं उसकी ऐतिहासिकता
13. Paper-2 Unit-1 सत् का स्वरूप
14. Paper-2 Unit-1 सत् का स्वरूप: द्रव्य, गुण, पर्याय का भेदाभेदवाद
15. Paper-2 Unit-2 लोक का स्वरूप
16. Paper-2 Unit-2 धर्मास्तिकाय एवं अधर्मास्तिकाय
17. Paper-2 Unit-3 आकाशस्तिकाय
18. Paper-2 Unit-3 काल
19. Paper-2 Unit-4 जीवास्तिकाय
20. Paper-2 Unit-4 षड्जीवनिकाय का स्वरूप
21. Paper-2 Unit-5 पुद्गलास्तिकाय
22. Paper-2 Unit-5 परमाणु एवं परमाणुबन्ध की प्रक्रिया
23. Paper-2 Unit-5 श्रावकाचार
24. Paper-2 Unit-6 जैन आचार की तात्विक पृष्ठभूमि
25. Paper-2 Unit-7 श्रमणाचार: पंच महाव्रत-समिति, गुप्ति, भिक्षु प्रतिमा
26. Paper-2 Unit-8 जैन धर्म का त्रिविध साधना-मार्ग: रत्नत्रय
27. Paper-2 Unit-9 नवतत्त्व
28. Paper-2 Unit-10 जैन धर्म में करुणा, अनुकम्पा एवं परीषह
29. Paper-2 Unit-11 षडावश्यक
30. Paper-2 Unit-12 संलेखना: समाधि मरण की जैन विधि, जैन आचार की सामाजिक प्रासंगिकता
31. Paper-3 Unit-1 कर्मसिद्धान्त: उद्भव और विकास, भारतीय दर्शन में कर्मसिद्धान्त
32. Paper-3 Unit-1 जैन योग का उद्भव और विकास
33. Paper-3 Unit-2 जैन दर्शन में कर्मसिद्धान्त: परिभाषा एवं स्वरूप, कर्म के भेद-प्रभेद
34. Paper-3 Unit-3 जैन दर्शन में कर्मबन्ध एवं मुक्ति का स्वरूप
35. Paper-3 Unit-3 कर्म की दस अवस्थाएँ
36. Paper-3 Unit-3 जैन ध्यान का स्वरूप
37. Paper-3 Unit-4 जैन योग प्रेक्षाध्यान
38. Paper-3 Unit-4 कर्मसिद्धान्त और गुणस्थान
39. Paper-3 Unit-5 कर्मसिद्धान्त की प्रमुख समस्याएँ एवं समाधान
40. Paper-3 Unit-5 Preksha Dhyan and Canonical Sources
41. Paper-3 Unit-5 नियति आदि पांच घटक
42. Paper-3 Unit-5 जैन कर्मसिद्धान्त और मनोविज्ञान
43. Paper-3 Unit-6 Introduction to Yoga and Kriyayoga
44. Paper-3 Unit-7 Ashtanga Yoga of Maharshi Patanjali
45. Paper-3 Unit-8 Yoga in Buddhism, Four Noble Truths
46. Paper-3 Unit-9 Theory of Karma, Stana in Buddhism

 

 

For any further queries please mail to : This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.