Print this page

स्वच्छता ही सेवा अभियान का शुभारम्भ

स्वच्छता को जन आंदोलन बनाने के लिये चलाया जायेगा- प्रो. त्रिपाठी

लाडनूँ 15 सितम्बर 2018। जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) एवं आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) की दोनों इकाईयों के अन्तर्गत शनिवार को यहां स्वच्छता ही सेवा-2018 अभियान का शुभारम्भ किया गया। शुभारम्भ कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुये प्राचार्य प्रो. आनन्द प्रकाश त्रिपाठी ने स्वच्छता के महत्व को बताते हुये कहा कि स्वच्छ भारत मिशन की चौथी वर्षगांठ एवं महात्मा गांधी के 150वें जयंती महोत्सव के अवसर पर स्वच्छता ही सेवा अभियान आगामी 2 अक्टूबर तक एनएसएस के तत्वावधान में चलाया जायेगा। इस अभियान का लक्ष्य प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छ भारत के विजन को जन-आंदोलन के रूप में विकसित करने का है। प्रधानमंत्री ने इस अभियान की शुरूआत शनिवार को प्रातःकाल से की है। इस अभियान के आगामी 17 दिनों में प्रतिदिन विविध निर्धारित कार्यक्रम संचालित किये जायेंगे। उन्होंने बताया कि इस अभियान के अन्तर्गत जनमानस में सफाई के प्रति नजरिये व व्यवहार को बदलने के लिये घर-घर तक पहुंच कर प्रेरित किया जायेगा। स्वच्छता को लेकर जन-जागरण के लिये नुक्कड़ नाटक, स्ट्रीट प्ले, लोकगीतों एवं लोकनृत्यों आदि का आयोजन करना, हर घर से कचरा संग्रहण, गलियां, नालियां एवं अन्य स्वच्छता की मोनिटरिंग करने, गांवों एवं विद्यालयों द्वारा रैली निकाली जाकर सफाई के प्रति जागरूकता पैदा करने, सार्वजनिक स्थानों पर दीवार-लेखन करने आदि अनेक कार्यक्रम एनएसएस के स्वयंसेवकों द्वारा सम्पन्न करवाये जायेंगे। कार्यक्रम का संचालन प्रभारी डॉ. प्रगति भटनागर ने किया। कार्यक्रम में सोनिका जैन, कमल मोदी, मधुकर दाधीच, रत्ना चैधरी, योगेश टाक आदि के अलावा एनएसएस की स्वयंसेवी छात्रायें भी उपस्थित थी।

Read 787 times

Latest from