REUNION (Alumni Meet) - 2016

पूर्व छात्र सम्मेलन

विद्यार्थी जीवन विकास की धूरी - कुलपति समणी चारित्रप्रज्ञा

लाडनूं 18 जनवरी। जैन विश्वभारती विश्वविद्यालय के द्वारा शनिवार को विश्वविद्यालय के एसडी घोडावत ऑडिटोरियम में पूर्व छात्र सम्मेलन का आयोजन समारोह पूर्वक किया गया। समारोह की अध्यक्षता करते हुए कुलपति समणी चारित्रप्रज्ञा ने कहा कि विद्यार्थी जीवन विकास की धूरी होता है। विद्यार्थी जीवन में सीखा गया शिक्षा एवं जीवन निर्माण का पाठ सदैव जीवन को प्ररेणा देता रहता है। कुलपति ने देश भर आये विश्वविद्यालय के पूर्व विद्यार्थियों कहा कि विद्यार्थी अतीत का अवलोकन करते हुए भविष्य की योजनाओं को रेखांकित करे। समणी चारित्रप्रज्ञा ने विश्वविद्यालय के पूर्व विद्यार्थियो की उपलब्धियों की सराहना करते हुए कहा कि आज विश्वविद्यालय को बहुत बडी खुशी हो रही है कि यहां से शिक्षा अर्जित करने वाले विद्यार्थी विविध क्षेत्रों में प्रभावी भूमिका का निर्वहन कर रहे है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए एकट बोध ग्राम जयपुर के निदेशक प्रो सत्येन चतुर्वेदी ने कहा कि पूर्व विद्यार्थी को सदैव अपने शिक्षण संस्थान के प्रति ऋणि रहना चाहिए। उन्होने कहा कि जैन विश्वभारती विश्वविद्यालय शिक्षा के साथ मानवीय मूल्यों को भी समर्पित है यही कारण है कि यहां का विद्यार्थी एक श्रेष्ठ नागरिक के रूप में भी अपने कर्तव्य का निर्वहन कर रहा है। कुलसचिव व सम्मेलन के समन्वयक प्रो अनिलधर ने सभी का स्वागत करते हुए विश्वविद्यालय की गतिविधियों पर प्रकाश डाला। पूर्व छात्र सम्मेलन के अध्यक्ष डॉ बी प्रधान ने सम्मेलन की गतिविधियों पर प्रकाश डाला। पूर्व छात्र आलम अली सिसोदिया ने छात्र जीवन के अनुभव बताये। कार्यक्रम का संयोजन लक्ष्मी सिंघी एवं आभार ज्ञापन डॉ अदिति गौतम ने किया।

पूर्व छात्र सम्मेलन के चुनाव- इस अवसर पर पूर्व छात्र सम्मेलन के चुनाव सम्पन्न हुए। दिल्ली के डॉ आलम अली सिसोदिया को अध्यक्ष, सचिव डॉ पुष्पा मिश्रा को व कोषाध्यक्ष लक्ष्मी सिंधी का सर्वसम्मति से मनोनयन किया गया। इस अवसर पर पूर्व विद्यार्थियेां के सम्मान में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

Read 1056 times

Latest from joomlasupport