जैन विश्वभारती संस्थान में बी.एड. तथा एम.एड. छात्राध्यापिकाओं का शुभभावना कार्यक्रम आयोजित

लाडनूँ, 11 नवम्बर, 2017। जैन विश्वभारती संस्थान के शिक्षा विभाग में अध्ययनरत बी.एड. तथा एम.एड. छात्राओं का शुभभावना कार्यक्रम का आयोजन किया गया। छात्राध्यापिकाओं को संबोधित करते हुए संस्थान के कुलपति प्रो. बच्छराज दूगड़ ने भावी जीवन हेतु शुभकामनाएं प्रेषित की। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान सीखे मूल्यों को न केवल अपने जीवन में आत्मसात करें बल्कि जहाँ भी जायें इनको प्रसारित करें। इस अवसर पर आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. आनन्द प्रकाश त्रिपाठी ने छात्राओं को शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि इस अद्वितीय संस्थान में सीखे ज्ञान तथा मूल्यों की आभा को जहाँ भी रहें, फैलाते रहें। उन्हांेने कहा कि जीवन में कभी भी अहंकार नहीं पनपने दें, अहंकार असफलता की प्रथम सीढ़ी है। संस्थान के उपकुलसचिव डाॅ. प्रद्युम्नसिंह शेखावत ने कहा कि आचार्य तुलसी की इस पवित्रधरा पर जो भी ज्ञान प्राप्त किया, वह आपके आगामी जीवन को निश्चित ही एक नई दिशा प्रदान करेगा। वहीं उन्होंने छात्राध्यापिकाओं को हमेशा संस्थान से जुड़े रहने का आह्वान किया।

शिक्षा विभागाध्यक्ष प्रो. बी.एल. जैन ने कहा कि विभाग में दो वर्ष के दौरान नियमित प्रशिक्षण के दौरान सीखा गया ज्ञान हमेशा आपको आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करेगा तथा व्यक्तित्व विकास में सहायक होगा। कार्यक्रम के दौरान आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में छात्राध्यापिकाओं ने अपनी मनमोहक प्रस्तुतियों से समां बांध दिया। कार्यक्रम में एकल नृत्य, सामूहिक नृत्य, गीत, कविता तथा गेम्स का आयोजन हुआ तथा छात्राध्यापिकाओं ने प्रशिक्षण के दौरान अपने अनुभव साझा किये। इन प्रस्तुतियों में रागिनी, अंकिता द्विवेदी, वत्सला, सुमन महला, सुनीता सहजवानी, कविता, पूनम गौड, विशाखा, पूनम एवं समूह, दिव्या पारीक, फिरोजा, आकांक्षा चारण, सरिता फिरोदा, सपना स्वामी, गीतांजली ने भाग लिया। इस अवसर पर समस्त शिक्षा संकाय सदस्य एवं समस्त छात्राध्यापिकाएं उपस्थित रहीं।

मंच संचालन बी.एड. छात्राध्यापिका आयुषी सैनी तथा जौहरा फातिमा ने किया तथा धन्यवाद ज्ञापन डाॅ. विष्णु कुमार द्वारा किया गया।

Read 82 times

Latest from