शिक्षा विभाग के विद्यार्थियों ने होली पर्व पर सुर संगम कार्यक्रम का किया आयोजन

होलिया में उड़े रै गुलाल गानों से छात्राओं ने मोहा मन

होली पर सुर संगम कार्यक्रम में छाया लोकगीतों का माधुर्य

लाडनूँ, 27 फरवरी 2018। जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) के शिक्षा विभाग में विद्यार्थियों ने सुर संगम कार्यक्रम का आयोजन किया। कार्यक्रम में बीएड, बीएससी-बीएड एवं बीए-बीएड की छात्राओं ने भजनों, लोक गीतों एवं फिल्मी पैरोडियों को प्रस्तुत किया। कार्यक्रम का आगाज होली के पारम्परिक गीत ‘होलिया में उड़े रै गुलाल....’ से किया गया। कार्यक्रम में सामुहिक नृत्य, समूह लोकगीत, एकल नृत्य आदि की रंगारंग प्रस्तुतियां दी गई, जिनमें प्रियंका बडियासर, तनुजा सैनी व दिव्या सोनी के गीतों ने सबको मोहा, तो जौहरा फातिमा व अम्बिका शर्मा ने ‘काल्यो कूद पड़्यो मेला में....’, सुरक्षा जैन के ‘पाछी जाबा दै...’ पूजा गौड़, संतोष, सरोज व सरिता ने ‘बाबलु तेरे अंगना में...’ प्रस्तुत किया, जिन्हें सभी ने सराहा। कार्यक्रम में संकाय सदस्यों द्वारा रंग बरसै, बाजै है नौबत बाजा आदि लोकगीतों एवं विविध गीतों की प्रस्तुतियां दी। विभागाध्यक्ष प्रो. बीएल जैन ने सभी को होली की बधाईयां देते हुये बताया कि कार्यक्रम का उद्देश्य जहां लोकपर्व के प्रति जागरूकता पैदा करना है, वहीं इस आयोजन के माध्यम से छात्राध्यापिकाओं में गीत-संगीत, नृत्य, कलात्मकता की प्रवृति उत्पन्न करने के साथ उनका भावात्मक, संवेगात्मक व सृजनात्मक विकास पैदा करना भी है। कार्यक्रम में डाॅ. मनीष भटनागर, डाॅ. बी. प्रधान, डाॅ. विष्णु कुमार, डाॅ. सरोज राॅय, डाॅ. अमिता जैन, डाॅ. आभा सिंह, डाॅ. गिरीराज भोजक, डाॅ. गिरधारी लाल शर्मा, डाॅ. ममता सोनी, देवीलाल कुमावत, मुकुल, मुकेश आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन डाॅ. शकुन्तला शर्मा ने किया।

Read 419 times

Latest from