तेरापंथ धर्मसंघ के मुख्य मुनि महावीर कुमार को पर्यावरणीय चिंतन सम्बंधी शोध पर पीएचडी

लाडनूँ, 5 नवम्बर 2022। जैनि विश्वभारती संस्थान मान्य विश्वविद्यालय में पीएचडी डिग्री के लिए तैयार किए गए शोध प्रबंधों के लिए शनिवार को यहां शोधार्थियों का मौखिकी परीक्षण किया गया। मौखिकी परीक्षण में जैनश्वेताम्बर तेरापंथ धर्मसंघ के मुख्य मुनि श्री महावीर कुमार द्वारा लिखित शोध प्रबंध ‘जैन आगमों में पर्यावरणीय चिन्तनः एक अध्ययन’ के लिए उन्हें डाक्टरेट की उपाधि प्रदान किए जाने के लिए अनुशंषा की गई है। उनके द्वारा तैयार किए गए शोध-प्रबंध के लिए कुलपति प्रो. बच्छराज दूगड़ व प्रो. धर्मचन्द जैन जयपुर द्वारा उनका मौखिकी परीक्षण किया गया। इस अवसर पर जैन विश्व भारती के अध्यक्ष अमरचंद लूंकड़, मुख्य ट्रस्टी डा. धर्मचंद लूंकड़ एवं अन्य जैन संत भी मौजूद रहे। ज्ञातव्य है कि जैन विश्वभारती संस्थान विश्वविद्यालय से अनेक जैन व जैनेत्तर साधु-साध्वियों ने स्नातक, स्नातकोत्तर व पीएचडी की है। शनिवार को मुख्य मुनि महावीर कुमार के अलावा 5 अन्य शोधार्थियों का मौखिकी परीक्षण भी किया गया, जिनमें समाज कार्य विभाग के 4 शोधार्थियों के अलावा जैनोलोजी विभाग से समणी प्रणव प्रज्ञा का भी मौखिकी परीक्षण पीएचडी उपाधि के लिए किया गया।

Read 375 times

Latest from