जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) के आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय में घुड़सवारी गतिविधि की शुरूआत

लाडनूं में काॅलेज छात्राओं की घोड़े पर सवार होकर दौड़

लाडनूँ 8 सितम्बर 2018। जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) के आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय में शनिवार को छात्राओं को घुड़सवारी सिखाने की गतिविधि का शुभारम्भ किया गया। प्राचार्य प्रो. आनन्द प्रकाश त्रिपाठी ने हरी झंडी दिखा कर घोड़े को रवाना किया और प्रशिक्षण के कार्यक्रम की शुरूआत की। इस अवसर पर प्रो. त्रिपाठी ने बताया कि आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय में शिक्षा के साथ-साथ छात्राओं के सर्वांगीण विकास को ध्यान में रखते हुये विविध गतिविधियों का संचालन किया जाता है; इसके लिये एक साप्ताहिक दिवस का निर्धारण किया गया है। अपनी रूचि के अनुकूल विषय में प्रशिक्षण लेने के लिये महाविद्यालय की छात्राओं को हर सप्ताह गतिविधि दिवस शनिवार का इंतजार रहता है। उन्होंने बताया कि घुड़सवारी का प्रशिक्षण यहां गठित की गई रानी लक्ष्मीबाई क्लब के अन्तर्गत दिया जा रहा है। इसके लिये अब पहले दिन 21 छात्राओं का पंजीयन घुड़सवारी सीखने के लिये किया गया है तथा बहुत सारी छात्राओं ने घुड़सवारी प्रशिक्षण के प्रति अपनी रूचि जाहिर की है, उनका भी पंजीकरण किया जा रहा है।

निःशुल्क है घुड़सवारी का प्रशिक्षण

प्राचार्य प्रो. त्रिपाठी ने बताया कि घुड़सवारी का प्रशिक्षण निःशुल्क रखा गया है। पंजीयन के लिये छात्राओं को केवल एक बार 100 रूपये का शुल्क रखा गया है। घुड़सवारी के प्रशिक्षक प्रसिद्ध घुड़सवार अशेाक भार्गव की सेवायें ली जा रही है तथा इसके लिये प्रभारी अपूर्वा घोड़ावत व योगेश टाक को बनाया गया है। घुड़सवारी के शुभारम्भ के अवसर पर शिक्षा विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो. बीएल जैन, अहिंसा एवं शांति विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ. जुगल किशोर दाधीच, अभिषेक चारण, प्रगति भटनागर, सोनिका जैन, रत्ना चैधरी आदि उपस्थित थे। प्राचार्य ने बताया कि महाविद्यालय में अन्य गतिविधियों के निमित्त गठित क्लबों में नृत्य कला के प्रशिक्षण के लिये सोनल मानसिंह क्लब में ताम्बी दाधीच द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है व प्रभारी सोनिका जैन हैं। अपर्णा सेन क्लब में छात्राओं को चित्रकला का प्रशिक्षण सुरभि जैन द्वारा प्रदान किया जा रहा है व प्रभारी रत्ना चैधरी है। इसके अलावा विवेकानन्द क्लब में छात्राओं को वक्तृत्व कला में पारंगत बनाने के लिये एवं महाश्रमण क्लब में लेखन कला प्रशिक्षण के लिये अभिषेक चारण व सोमवीर सागवान अपनी सेवायें दे रहे हैं। इसी प्रकार खेलकूद की गतिविधियों के लिये पीटी उषा क्लब में छात्रायें डाॅ. बलवीर सिंह व मधुकर दाधीच से प्रशिक्षण प्राप्त कर रही हैं। इन सभी क्लबों के लिये पर्यवेक्षक के रूप में डाॅ. प्रगति भटनागर व कमल मोदी को नियुक्त किया गया है।

Read 136 times

Latest from