दूरस्थ शिक्षा निदेशक प्रो. त्रिपाठी को मिला साहित्य का शिखर सम्मान

लाडनूँ, 12 नवम्बर 2021। जैन विश्वभारती संस्थान विश्वविद्यालय के दूरस्थ शिक्षा निदेशक प्रो. आनन्द प्रकाश त्रिपाठी को प्रयागराज की भारतीय संस्कृति एवं साहित्य संस्थान द्वारा आयोजित विमर्श, सम्मान एवं कविकुम्भ के आयोजन के अवसर पर इस वर्ष का ‘राष्ट्रकवि सोहनलाल द्विवेदी शिखर सम्मान’ से नवाजा गया है। उन्हें यह सम्मान समाजसेवी विद्याशंकर तिवाड़ी और संस्थाध्यक्ष साहितयकार डा. विजयानन्द द्वारा प्रदान किया गया। प्रो. त्रिपाठी लम्बे समय से बाल साहित्य की रचना करते रहे हैं तथा इनकी 50 से अधिक पुस्तकें प्रकाशित होने के साथ अनेक प्रसिद्ध पत्र-पत्रिकाओं में रचनाएं भी छपती रहती है। प्रो. त्रिपाठी को पूर्व में प्रशासनिक एवं सांस्थनिक आदि विभिन्न क्षेत्रों से भी अनेक बार पुरस्कृत एवं सम्मानित किया जा चुका है। इस सम्मान के मिलने पर उन्हें यहां जैन धर्म एवं संस्कृति संरक्षण संस्थान की डा. मनीषा जैन, शरद जैन साहित्य संगम के अध्यक्ष जगदीश यायावर, अणुव्रत समिति के मंत्री डॉ. वीरेन्द्र भाटी मंगल, आलोक खटेड़ एवं अन्य सभी साहित्यकारों एवं साहितय प्रेमियों ने बधाइयां प्रदान की है।

Read 930 times

Latest from