सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं में छात्राओं ने दिखाया अपनी प्रतिभा का कौशल

वाद-विवाद, सामूहिक वेस्टर्न नृत्य, कविता, मेहंदी एवं अनुपयोगी सामग्री का उपयोग प्रतियोगिताओं का आयोजन

लाडनूँ, 10 फरवरी 2024। जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) में चल रही सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं के तहत वाद-विवाद, सामूहिक वेस्टर्न नृत्य, कविता, मेहंदी एवं अनुपयोगी सामग्री का उपयोग आदि प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया, जिनमें छात्राओं ने उत्सुकतापूर्वक हिस्सा लेकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। वाद-विवाद प्रतियोगिता में 13 प्रतिभागियों ने पक्ष और विपक्ष में विषय को प्रसतुत किया। सामूहिक वेस्टर्न नृत्य में लगभग 40 प्रतिभागियों ने अपने-अपने समूह में हिस्सा लेकर प्रतिभा का प्रदर्शन किया। कविता प्रतियोगिता में लगभग 28 प्रतिभागियों ने भाग लिया और अलग-अलग मुद्दों पर कविता के माध्यम से भावों को प्रकट किया। अनुपयोगी सामग्री का उपयोग प्रतियोगिता में लगभग 10 प्रतिभागियों ने भाग लेकर विभिन्न चीजों का निर्माण किया। मेहंदी प्रतियोगिता में लगभग 35 प्रतिभागियों ने भाग लेकर हाथों पर कला को उभार कर रंग प्रदान किया। इन सभी प्रतियोगिताओं के लिए निर्णायक के रूप में मोबिन आगवान, डॉ. श्रद्धा सिन्हा, दशरथ सिंह, डॉ गिरिराज भोजक, डॉ. बलवीर सिंह, अभिषेक चारण, डॉ. गरिमा, डॉ. सरोज राय, डॉ. सुनीता इंदौरिया, डॉ. प्रगति भटनागर, खुशाल जांगिड़, स्नेहा शर्मा व महिमा जैन अपना निर्णय सुरक्षित किया। प्रारम्भ में डॉ. अमिता जैन एवं सुश्री श्वेता खटेड ने निर्णायकों का स्वागत एवं परिचय करवाया। कार्यक्रम के अंत में डॉ. विनोद कस्वा ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन चिंकी एवं कोमल प्रजापत ने किया। इस अवसर पर प्रो. रेखा तिवारी, डॉ. लिपि जैन, डॉ. रविंद्र सिंह राठौड़, डॉ. प्रगति भटनागर, प्रमोद ओला, देशना चारण, प्रगति जैन, डॉ. गिरधारी लाल शर्मा आदि संकाय सदस्य एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे।

Read 461 times

Latest from