श्रेष्ठ व समृद्ध भारत बनाने के लिये संकल्प पूर्वक करें लक्ष्य सिद्धि - चा ैधरी

नया भारत-मंथन कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री ने करवाया सामुहिक शपथ ग्रहण

लाडनूँ, 19 अगस्त, 2017। केन्द्रीय खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलात मंत्री सीआर चा ैधरी ने आह्वान किया है कि सभी मिलकर भारत को एक श्रेष्ठ राष्ट्र, स्वच्छ, स्वस्थ, समृद्ध, शक्तिशाली और शांत व अच्छा भारत बनाने के लिये संकल्पपूर्वक आगामी पांच वर्षों में लक्ष्यसिद्धि करनी है। वे यहाँ जैन विश्वभारती विश्वविद्यालय के तत्वावधान में सुधर्मा सभा में नया भारत-संकल्प से सिद्धि अभियान के तहत आयोजित नया भारत-मंथन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने इस अवसर पर नया भारत-संकल्प से सिद्धि की सबको सामुहिक रूप से शपथ-ग्रहण करवाई। उन्होंने आजादी की लड़ाई से लेकर स्वतंत्रता प्राप्ति तक के पांच सालों और अब 2017 से 2022 तक के पांच सालों के संकल्प का विवरण प्रस्तुत किया तथा बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने शपथ-ग्रहण के साथ ही एसआईटी का गठन करके देश को कालाधन के खिलाफ संकल्प को व्यक्त किया था। इसी प्रकार केन्द्र सरकार ने स्वच्छता, बेरोजगारी, आतंकवाद व सीमा-सुरक्षा को लेकर विशेष कार्य किये हैं। पूरेे विश्व से आतंकवाद मिटे, इसके लिए प्रधानमंत्री ने विश्व पटल पर आवाज उठाई और सभी देशों से उन्हें समर्थन मिला है। उन्होंने कहा कि केवल नारे नहीं दिये जाते, बल्कि करके दिखाया जाता है। चैधरी ने मुद्रा योजना के बारे में बताते हुये कहा कि तीन सालों में 15 करोड़ लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाया गया है। छोटे-छोटे दस्तकारों के रूप में करीब साढ़े पांच करोड़ लोग लगे हुये हैं। योजना के तहत 25 करोड़ लोगों को रोजगार देने की व्यवस्था है और इसमें 10 हजार रुपयों से लेकर 10 लाख रुपयों तक का ऋण बिना जमानत के उपलब्ध करवाये जा रहे हैं। इसी प्रकार कौशल योजना में हर हाथ को हुनर व हर हाथ को रोजगार देने की व्यवस्था है, जिसमें निःशुल्क प्रशिक्षण देने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने मेक इन इंडिया, स्किल इंडिया, स्टेंडअप आदि का जिक्र करते हुये कहा कि आजादी के बाद से ही देश में बेरेाजगारी की समस्या बनी हुई है और यह हर साल बढ़ती ही जा रही है। हमारा इस बेरोजगारी की समस्या को रोकने का प्रयास है।

14 करोड़ लोगों को सामाजिक सुरक्षा का लाभ

केन्द्रीय मंत्री चा ैधरी ने बताया कि रूस की आबादी के बराबर कुल 14 करोड़ लोगों को सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के तहत बीमा उपलब्ध करवाया गया है। इसमें से 5 लाख 40 हजार लोगों का बीमा तो जन-धन खाता खोलने से हो गया। उन्होंने बताया कि खाते खोलने के बाद लोगों के खातों में बिना जमा करवाये पैसे आ रहे हैं। गैस, अनाज आदि पर जो सब्सिडी सरकार दे रही है, उसे सीधे खाते में जमा करवा दिया जाता है। कुल ऐसी 250 योजनाएँ हैं, जिनका पैसा सीधे खातों में जमा करवाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आजादी से लेकर आज तक 5 करोड़ 42 लाख गैस कनेक्शन थे और हमने तीन सालों में 7 करोड़ लोगों को गैस कनेक्शन से जोड़ा है, जिनमें से 2.50 लाख उज्ज्वला योजना में बीपीएल महिलाओं को निःशुल्क गैस कनेक्शन दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि अशिक्षा को भारत से भगाने के लिये हर पंचायत मुख्यालय पर सैकेण्डरी स्कूल खोल दिया गया है और प्रदेश में 5 करोड़ स्कूलों को क्रमोन्नत किया गया है। उन्होंने तकनीकी शिक्षा और उच्च शिक्षा के लिये जीएआईएन (ज्ञान) योजना के तहत शिक्षकों की कमी को देखते हुए विदेशों से विद्वानों को बुलाया जा रहा है। केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि केन्द्र सरकार ने हर वर्ग के लिये योजना तैयार की है और इस समय 105 योजनाएँ ऐसी हैं, जिनसे हर वर्ग कोई न कोई लाभ उठा रहा है।

लक्ष्य निर्धारित कर करें देश के लिये योगदान

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बच्छराज दूगड़ ने समारेाह की अध्यक्षता करते हुये कहा कि देश का क्रमिक विकास हुआ है और स्वतंत्रता से लेकर आज तक हर क्षेत्र में विकास किये गये हैं, लेकिन आजादी के बाद से अब तक अनेक समस्याएँ और मुद्दे हैं, जिनका समाधान किया जाना आवश्यक है। इसे देखते हुये लगता है कि देश का यथार्थ विकास नहीं हुआ और इसी कारण नया भारत-मंथन का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने हर व्यक्ति से देश के लिये अपने दायित्व को पूरा करने की आवश्यकता बताई तथा कहा कि हमें देश के प्रति शपथ लेना है, नया भारत मंथन पर विचार करना है तथा किसी भी एक मुद्दा, चाहे वह भ्रष्टाचार हो, गरीबी हो, स्वच्छता हो, उनमें से एक के हल के लिए अपने स्तर पर प्रयास करना है। इसके बाद अपना जो भी लक्ष्य निर्धारित करें, उसके लिये पूरा प्रयत्न करें, चाहे वह सफाई हो, शिक्षा में गुणवता हो, गुड गवर्नेस आदि हो। नव इण्डिया की वेबसाईट से किसी भी एक स्वतंत्रता सेनानी को अपना आईडल बनावें और उसकी अपने आप से तुलना करते हुये अपना प्रोफाईल तैयार करके अपलोड करें। हम सब व्यक्तिगत रूप से इसमें सहयोग प्रदान करेंगे तो देश को श्रेष्ठ बनाया जा सकता है और आगे आने वाले पांच सालों में भारत दुनिया में सबसे अग्रणी होगा। जिन क्षेत्रों में देश आगे बढ़ रहा है, उनमें अपना योगदान भी अवश्य दें।

लाडनूँ तहसील के दो लाख लोगों का सामुहिक बीमा

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि भामाशाह सागरमल नाहटा ने देश को अपराध मुक्त, नशा मुक्त और स्वच्छ भारत बनाने की दिशा में सबके सहयोग की कामना करते हुए कहा कि लगता है कि अब रामराज्य की कल्पना साकार हो जायेगी। उन्होंने इस अवसर पर बताया कि केन्द्रीय मंत्री सी.आर. चा ैधरी व विधायक मनोहर सिंह के परामर्श पर उन्होंने लाडनूं तहसील क्षेत्र कर सम्पूर्ण दो लाख की आबादी का बीमा करवा रहे हैं। इसमें प्रति व्यक्ति 12 रुपये की प्रीमियम जमा करवानी होती है और वे दो लाख लोगों के लिये 25 लाख की राशि का भुगतान करने की घोषणा करते हैं। उन्होंने जैन विश्वभारती विश्वविद्यालय के दूरस्थ शिक्षा भवन के लिये एक करोड़ रुपये देने की घोषणा भी की। उन्होंने 90 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले सभी छात्र-छात्राओं को फीस का 50 प्रतिशत हिस्सा अपने ट्रस्ट की ओर से देने की घोषणा भी की। इसके अलावा उन्होंने क्षेत्र केे अन्य शिक्षण संस्थानों व संस्थाओं के लिए भी अलग-अलग राशि की घोषणाएँ कीं।

अध्यात्म प्रेरित है मोदी की योजनाएँ

मुनि स्वस्तिक कुमार ने अपने उद्बोधन में मेहनत को जीवन की सफलता की चाबी बताते हुये कहा कि संकल्प से ही सिद्धि संभव है। उन्होंने चऱित्र-निर्माण पर बल देते हुये कहा कि चरित्र हमारे देश की सबसे बड़ी ताकत होगी, हमें कभी पीछे मुड़कर नहीं देखना होगा और देश आगे बढ़ेगा। उन्होंने अणुव्रत आंदोलन के बारे में बताया और कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की योजनाएँ हमें लगता है कि अध्यात्म से प्रेरित है। उन्होंने आतंकवाद को मिटाने के लिये जन-जन में शिक्षा को बढ़ावा देने की आवश्यकता बताई। विधायक मनोहर सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर नये भारत के निर्माण के लिये सबके सहयोग की जरूरत बताई। कार्यक्रम के प्रारम्भ में अहिंसा एवं शांति विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ. जुगल किशोर दाधीच ने अतिथियों का परिचय प्रस्तुत किया। दूरस्थ शिक्षा निदेशक प्रो. आनन्दप्रकाश त्रिपाठी ने अपने स्वागत भाषण में स्वच्छ भारत अभियान के उपलब्धि की ओर बढने पर हर्ष जताया और कहा कि इसकी सफलता इसमें दृष्टिगेाचर होती है कि हर व्यक्ति सड़क पर कोई भी कचरा फेंकने में झिझक महसूस करता है। छात्राओं ने प्रारम्भ में प्रार्थना व स्वागत-गीत प्रस्तुत किया। केन्द्रीय मंत्री सी.आर. चैधरी का स्वागत जैन विश्व भारती के ट्रस्टी भागचंद बरड़िया ने शाॅल ओढाकर एवं स्मृति चिह्न भेंट करके किया। इसी प्रकार प्रो. बीएल जैन, प्रो. दामोदर शास्त्री, वित्ताधिकारी राकेश जैन व डाॅ. बिजेन्द्र प्रधान ने भी अन्य अतिथियों का स्वागत शाॅल व स्मृति चिह्न प्रदान करके किया। समारोह में भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश मोदी व भागचंद बरड़िया विशिष्ट अतिथि थे।

विजेताओं को पारितोषिक वितरण

‘‘नया भारत: संकल्प से सिद्धि’’ अभियान के तहत विभिन्न प्रतियोगिताओं में विजेता रहे छात्रों को इस समारोह में केन्द्रीय मंत्री सी.आर. चा ैधरी के हाथों सम्मानित करवाया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रम समन्वयक डाॅ. अमिता जैन ने घोषणा की कि वाद-विवाद प्रतियोगिता में प्रथम सुमन मण्डा, द्वितीय करुणा शर्मा व सुनीता सहजवानी, तृतीय मुमुक्षु आरती रही। रंगोली प्रतियोगिता में प्रथम गुंजन जांगिड़ व ग्रुप, द्वितीय सरिता यादव व ग्रुप एवं करुणा शर्मा व ग्रुप रहे तथा तृतीय स्थान पर सरिता फड़ोद रही। पोस्टर पेण्टिंग प्रतियोगिता में प्रथम पारूल दाधीच व प्रवीण कंवर रही। द्वितीय स्थान पर योगिता शर्मा व तृतीय स्थान पर वत्सला रही। सभी विजेताओं का समारोह में सम्मान किया गया। डाॅ. जैन ने बताया कि परिचर्चा कार्यक्रम को स्थगित किया जाकर 21 अगस्त को किया जायेगा। समारेाह में भाजपा सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक जगदीश सिंह राठौड़, भाजपा जिला मंत्री नीतेश माथुर, भाजपा बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान की जिला संयोजक सुमित्रा आर्य, महावर ओझा, प्रेमाराम रेवाड़, सरपंच पदमसिंह रोडू, श्यामसुन्दर पंवार, हरदयाल रुलानिया, भाजपा मण्डल अध्यक्ष ओमप्रकाश बागड़ा, हनुमानमल जांगिड़, पार्षद मोहनसिंह चैहान, अदरीश खां, ताजू खां मोयल, जिला परिषद् सदस्य पन्नालाल भामू, सुशील पीपलवा, भाजपा मीडिया प्रभारी रमेश सिंह राठौड़, लूणकरण शर्मा, कैप्टेन असगर खां, ललित वर्मा, पूनमचंद मारोठिया, प्रधान प्रतिनिधि प्रतापसिंह कोयल, गोविन्द सिंह कसूम्बी, देवाराम पटेल, सीताराम गौतम आदि प्रमुख लोग बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।

Read 373 times

Latest from