राष्ट्रीय सेवा योजना की दो ईकाइयों आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय तथा जैन विश्वभारती संस्थान के संयुक्त सात दिवसीय शिविर का आयोजन

एनएसएस के स्वयंसेवकों ने पिलाई पोलियो की खुराक

लाडनूँ, 27 जनवरी, 2018।  जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) में राष्ट्रीय सेवा योजना की दो ईकाइयों आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय तथा जैन विश्वभारती संस्थान के संयुक्त सात दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का शुभारम्भ पल्स पोलियो अभियान सम्बंधी प्रशिक्षण के साथ किया गया। इस अवसर पर जिला पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख ने एक नन्हें बच्चे को पोलियो ड्रोप्स पिला कर शिविर का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि पोलियो की खुराक स्वस्थ भारत की दिशा में महत्वूपर्ण कदम है। शिविर में स्थानीय राजकीय चिकित्सालय के डाॅ. बीआर सारण एवं उनकी टीम ने स्वयं सेवको को पल्स पोलियों का प्रशिक्षण दिया। इसके बाद सभी शिविरार्थी 200 स्वयंसेवकों ने रविवार को निर्धारित पोलियो-बूथों पर जाकर बच्चों को पोलियों की खुराक पिलाई। सोमवार को सभी एनएसएस स्वयंसेवकों ने शहर के विभिन्न क्षेत्रों में घर-घर जाकर बच्चों को पोलियो की दवाई पिलाई। सोमवार को भी ये स्वयंसेवक घर-घर जाकर पोलियो खुराक पिलायेंगे।

युवाशक्ति का राष्ट्र हित में सही उपयोग आवश्यक - राजेश विद्रोही

31 जनवरी, 2018। इस सात दिवसीय शिविर के पांचवें दिन एक प्रेरणा सत्र का आयोजन किया गया। इस सत्र में क्षेत्र के उर्दू व हिन्दी के प्रसिद्ध लेखक राजेश विद्रोही ने अपने सम्बोधन में कहा कि हर व्यक्ति में अलग-अलग विशेषतायें व क्षमतायें होती है, इसलिये जब तक व्यक्ति की क्षमता को पहचान कर उसके अनुरूप कार्य उसके सुपुर्द किया जाता है तो उस कार्य की सफलता निश्चित हो जाती है। उन्होंने कहा कि युवाओं में ऊर्जा व क्षमता होती हैं युवाओं को जाति, धर्म और वर्ग से उपर उठ कर व्यापक सोच के साथ गतिशील होना चाहिये। राष्ट्र के उत्थान के लिये युवाशक्ति का सही उपयोग आवश्यक है। प्रारम्भ में आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. आनन्द प्रकाश त्रिपाठी ने विद्रोही का परिचय प्रस्तुत किया तथा कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना युवा वर्ग की शक्ति को रचनात्मक दिशा में ले जाने का उपक्रम है। कार्यक्रम का संचालन छात्रा हेमलता ने किया।

राष्ट्रीय सेवा योजना शिविर में छात्राओं ने किया ट्रेक रंगाई का कार्य

31 जनवरी, 2018।  इस सात दिवसीय शिविर के छठे दिन प्रागंण में ट्रेक रंगाई का कार्य स्वयंसेवकों द्वारा किया गया। कार्य का शुभारम्भ संस्थान के कुलसचिव विनोद कुमार कक्कड़ एवं महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. आनन्द प्रकाश त्रिपाठी द्वारा संस्थान के प्रतीक चिन्ह के चारों ओर बने ट्रेक पर रंगाई करते हुये किया । बाद में एनएसएस की छात्राओं ने विधिवत रूप से सम्पूर्ण ट्रेक की रंगाई का कार्य किया। इसके साथ ही छात्र-छात्राओं द्वारा सम्पूर्ण परिसर में स्थित पेड़ों पर भी रंगाई का कार्य किया गया। यह शिविर दोनों इकाईयों के समन्वयक क्रमशः डाॅ. जुगल किशोर दाधीच एवं डाॅ. प्रगति भटनागर के निर्देशन में आयोजित किया जा रहा है। आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय की सहायक आचार्या सोनिका जैन ने स्वयं सेवको को जीवन में सदैव खुशनुमा रहने के गुर सिखाये। शुक्रवार को शिविर का समापन लाडनूं शहर के सभी प्रमुख मार्गों से स्वच्छता एवं स्वास्थ्य जागरूकता रैली निकाल कर किया जायेगा।

2 फरवरी, 2018। इस सात दिवसीय शिविर के समापन समारोह में आयोजित कार्यक्रम के प्रथम चरण में आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय के अगे्रंजी के सहायक आचार्य सोमवीर सांगवान द्वारा फाॅनेटिक्स पर एक कार्यशाला आयोजित की गई, जिसमें स्वयं सेवकों ने उत्साह पूर्वक भाग लिया। द्वितीय सत्र में सभी स्वयं सेवकों ने विश्वविद्यालय परिसर में स्वच्छता एवं स्वास्थय जागरूकता सम्बन्धित नारे लगाकर स्वच्छ एवं स्वस्थ रहने का सदेंश दिया। तृतीय चरण में समापन समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में शिविर के दौरान आयोजित की गई पोस्टर प्रतियोगिता का परिणाम घोषित किया गया, जिसमें नेहा प्रजापत प्रथम, योगिता शर्मा द्वितीय तथा अंकिता बेगांनी तृतीय रही। कार्यक्रम ज्योति नागपुरीयां, सुरैया बानो, तन्मय जैन, एवं आनन्दपाल सिंह ने अपने शिविर अनुभव साझा किये। कार्यक्रम की शुरूवात कंचन स्वामी द्वारा स्वागत गीत के माध्यम से की गई। सरिता शर्मा ने राष्ट्रीय सेवा योजना का गीत प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय सेवा योजना की कार्यक्रम अधिकारी डाॅ. प्रगति भटनागर, एवं आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय के सहायक आचार्य कमल कुमार मोदी, मधुकर दाधीच, डाॅ. बलवीर सिंह, सोमवीर सांगवान, सोनिका जैन, रत्‍ना चैधरी, योगेश टाक आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन हेमलता शर्मा ने किया। इस सात दिवसीय शिविर का सफल आयोजन कार्यक्रम समन्वयक डाॅ. जुगल किशोर दाधीच एवं डाॅ. प्रगति भटनागर के निर्देशन मे किया गया।

Read 1253 times

Latest from