भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित

आचार्यों की तपोभूमि है यह विश्वविद्यालय- प्रो. दूगड़

लाडनूँ, 13.मार्च 2018। जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) के महाप्रज्ञ-महाश्रमण आॅडिटोरियम में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में सुप्रसिद्ध लोक कलाकार मानसी सिंह ने भवाई नृत्य तथा घूमर नृत्य प्रस्तुत करके उसमें रोमांचक व रोंगटे खड़े कर देने वाले करतब प्रदर्शित करके सबको दांतों तले अंगुलि दबाने को मजबूर कर दिया। कार्यक्रम के शुभारम्भ पर मानसी सिंह के ‘केसरिया बालम आवो नीं पधारो म्हारे देश’ गीत पर नृत्य प्रस्तुतिकरण से किया गया तथा गणगौर पर्व के प्रसिद्ध गीत एवं पीली लूगड़ी रा झाला आदि प्रख्यात राजस्थानी लोकगीतों व लोकनृत्यों से समस्त दर्शकों का मन मोहा। कार्यक्रम में मानसी सिंह के अलावा विश्वविद्यालय की छात्राओं हेमलता एवं समूह, पूजा एवं समूह, सिद्धि पारीक, अमिता एवं समूह, मुमुक्षु बहिनें, रागिनी शर्मा आदि ने अपनी प्रस्तुतियां दी। प्रस्तुत कार्यक्रमों में राजस्थानी लोकनृत्य, राजस्थानी पैरोडी, समूह नृत्य, क्लासिकल डांस, माईम, ड्रामा आदि पेश किये, जिन्हें समस्त उपस्थित दर्शकों व अतिथियों ने मुक्त कंठों से सराहा तथा कलाकारों को मंच पर बुलाकर उनके साथ अपने फोटो साझा किये। कार्यक्रम में महिलाओं के खिलाफ अपराध पर छात्राओं ने नृत्य-नाटिका प्रस्तुत की गई। सिद्धि पारीक ने कालबेलिया नृत्य आदि प्रस्तुत किये। योग एवं जीवन विज्ञान विभाग के विद्यार्थियों ने योगासनों एवं योग के विभिन्न प्रयोगों का प्रदर्शन करके सबको मोहित किया।

Read 696 times

Latest from