जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) में भारत में कराधान विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन

लाडनूँ, 15 मार्च 2019। जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) के आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय में ‘‘भारत में कराधान’’ विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला के उद्घाटन सत्र में मुख्य वक्ता विषय-विशेषज्ञ नीतेश माथुर सीए ने देश में प्रचलित कर प्रणाली के बारे में जानकारी देते हुये देश में लागू की गई एक कर प्रणाली जीएसटी के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष कर में अंतर बताते हुये माल व सेवा कर के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डाला व भ्रंतियों का निवारण किया। अध्यक्षता करते हुये प्राचार्य प्रो. आनन्द प्रकाश त्रिपाठी ने अपने सम्बोधन में आम आदमी के जीवन में करों के महत्व के बारे में बताया और आयकर फाईल में आने वाली समस्याओं के बारे में चर्चा की। सहायक आचार्य कमल कुमार मोदी ने कार्यशाला की आवश्यकता को प्रतिपादित करते हुये करारोपण की आवश्यकता और आम आदमी की भूमिका के बारे में बताया। मुख्य वक्ता नीतेश माथुर ने इस अवसर पर छात्राओं की कर समबंधी जिज्ञासाओं का समाधान भी किया। अंत में अपूर्वा घोड़ावत ने आभार ज्ञापित किया। कार्यशाला के द्वितीय सत्र में पत्र वाचन किया गया, जिसमें अवंतिका, रश्मि बोकड़िया, संध्या वर्मा, महिमा प्रजापत व दिशा बैंगानी ने पत्र वाचन किया। सत्र की अध्यक्षता कमल मोदी व सह अध्यक्षता सोनिका जैन ने की। कार्यशाला के समापन सत्र में 7-7 छात्राओं के पांच समूह बनाये जाकर ‘‘भारत में कराधान’’ विषय पर समूह-परिचर्चा का आयोजन किया गया, जिनमें मूल्यांकन कार्य कमल मोदी, सोनिका जैन व अपूर्वा घोड़ावत ने किया।

Read 124 times

Latest from