जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) में स्वच्छ भारत समर इटर्नशिप के तहत एन.एस.एस. छात्राओं द्वारा जागरूकता अभियान का आयोजन

जलशक्ति अभियान के तहत पौधारोपण किया व पानी बचाने के उपाय सीखे

लाडनूँ, 27 जुलाई 2019। जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) की राष्ट्रीय सेवा योजना (एन.एस.एस.) ईकाइयों के तहत स्वयंसेवी छात्राओं द्वारा ‘स्वच्छ भारत समर इटर्नशिप’ के तहत वृक्षारोपण एवं जल संरक्षण जागरूकता अभियान चलाया गया। अभियान के तहत आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो. आनन्दप्रकाश त्रिपाठी ने छात्राओं को विश्वविद्यालय परिसर में स्थित जल उपकरणों का अवलोकन करवाया तथा मौके पर प्रेक्टिकल रूप से जल संरक्षण के तरीकों से अवगत करवाया। उन्होंने इस अवसर पर जीवन में जल की महत्ती उपयोगिता बताते हुए कहा कि जल जीवन का पर्याय होता है। जल के बिना जीवन संभव नहीं है। उन्होंने जल के समुचित संरक्षण के लिये आवश्यक दिशा निर्देश देकर जल बचाने व सुरक्षित रखने की आवश्यकता बताई। इस अभियान के तहत बाद में एनएसएस प्रभारी डाॅ. प्रगति भटनागर द्वारा एन.एस.एस. स्वयंसेविकाओं को वर्षा कराने में वृक्षों की महत्ता बताई तथा पर्यावरण संरक्षण आदि के लिये तथा वृक्षों की अन्य उपयोगिताओं के बारे में बताया। इस अवसर पर स्वयंसेवी छात्राओं ने परिसर में वृक्षारोपण का कार्य किया। कार्यक्रम में छात्राओं के अलावा महाविद्यालय के सभी व्याख्याता भी मौजूद रहे।

Read 459 times

Latest from