जैन विष्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) में एनएसएस दिवस पर कार्यक्रम आयोजित।

सेवा भावना से आता है व्यक्तित्व में निखार - त्रिपाठी

लाडनूँ, 25 सितम्बर 2019। जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) की राष्ट्रीय सेवा योजना की दोनों इकाईयों के संयुक्त तत्वावधान में मनाये गये एनएसएस दिवस के प्रथम चरण में एनएसएस स्थापना दिवस कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि आचार्य कालू कन्या महाविद्यालय के प्राचार्य आनन्द प्रकाश त्रिपाठी ने युवाओं में व्यक्तित्व व आंतरिक योग्यता के विकास के साथ-साथ निस्वार्थ रूप से समाज सेवा की भावना रखने के लिये प्रेरित करते हुये कहा कि सेवा भावना से व्यक्तित्व में स्वतः निखार आता है। कार्यक्रम में दिव्यता कोठारी ने एनएसएस का परिचय एवं उद्देश्य बताये तथा गत 7 दिवसीय एनएसएस कैंप की गतिविधियों की जानकारी प्रस्तुत की। सोनम, प्रतिष्ठा कोठारी, मोनिका आदि एनएसएस स्वयंसेविकाओं ने एनएसएस दिवस पर अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम की शुरूआत रचना व कुसुम द्वारा एनएसएस गीत से की गई। एनएसएस प्रथम इकाई की कार्यक्रम अधिकारी डाॅ. प्रगति भटनागर ने स्वागत वक्तव्य दिया एवं कार्यक्रम की रूपरेखा समझाई। कार्यक्रम के प्रथम चरण के अंत में द्वितीय इकाई के कार्यक्रम अधिकारी डाॅ. बलबीर सिंह चारण ने आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम के द्वितीय चरण में गायन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें छात्राओं ने काफी बढ़-चढ़ कर भाग लिया। एकल गायन प्रतियोगिता में सोनम कंवर ने प्रथम, कुसुम सेन ने द्वितीय एवं स्नेहा पारीक ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। प्रतियोगिता के निर्णायक सहायक आचार्य सुश्री श्वेता खटेड़ व डाॅ. गिरधारी लाल शर्मा थे। कार्यक्रम में संकाय सदस्य कमल कुमार मोदी, अभिषेक चारण, सोमवीर सांगवान, मांगी लाल, अभिषेक शर्मा, शेर सिंह आदि मौजूद रहें। कार्यक्रम का संचालन दक्षता कोठारी ने किया।

Read 567 times

Latest from