जैन विश्वभारती संस्थान में 70वें संविधान दिवस पर सबको दिलाई शपथ एवं संसद के कार्यक्रम के सीधे प्रसारण का प्रदर्शन

राष्ट्र विकास के साथ प्राणी मात्र के कल्याण के लिये हैं संविधान के कर्तव्य- कुलपति प्रो. दूगड़

लाडनूँ, 26 नवम्बर 2019। जैन विश्वभारती संस्थान (मान्य विश्वविद्यालय) के आचार्य महाश्रमण ऑडिटोरियम में 70वें संविधान दिवस के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में कुलपति प्रो. बच्छराज दूगड़ ने समस्त विद्यार्थियों, संकाय सदस्यों एवं संस्थान के अधिकारियों को संविधान को अंगीकार करने और राष्ट्र के प्रति कर्तव्यों के सम्बंध में शपथ दिलवाई। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि संविधान में नागरिकों के मूल कर्तव्यों के बारे में बताया गया है, जिनका पालन प्रत्येक नागरिक कों अपने लिये आवश्यक समझ कर करना चाहिये। प्रो. दूगड़ ने बताया कि संविधान को 70 वर्ष पूर्व 26 नवम्बर 1949 को अंगीकृत किया गया था। संविधान आत्मार्पित करते समय सभी भारत वासियों ने जो उच्चारण किया था, उसे अब फिर से उच्चारित करके हम सभी भारत के विकास एवं राष्ट्र के प्रति निष्ठा के लिये संकल्पित रहें। उन्होंने बताया कि हमारे संविधान के कर्तव्य केवल हमारे विकास के लिये नहीं बल्कि प्राणी मात्र के कल्याण की भावना के लिये हमें संकल्पित करते हैं। हमें महिला और बाल कल्याण के लिये भी वे संकल्पित करते हैं। प्रारम्भ में दूरस्थ शिक्षा निदेशक प्रो. आनन्द प्रकाश त्रिपाठी ने संविधान दिवस के बारे में बताते हुये कहा कि कुल 2 वर्ष 11 माह 18 दिनों की अवधि में हमारे देश का संविधान बना था और 26 नवम्बर 1949 को तैयार हुआ था, जिसे इसी दिन पूरे देश ने स्वीकार किया था। कार्यक्रम में दिल्ली के संसद भवन के सेंट्रल हाॅल में मनाये गये संविधान दिवस का सीधा प्रसारण यहां ऑडिटोरियम के विशाल पर्दे पर प्रदर्शित किया गया। दिल्ली के इस पूरे कार्यक्रम को सभी ने आद्योपांत देखा और भाषण के महत्वपूर्ण अंशों पर अनेक बार तालियां भी बजाई। कार्यक्रम में कुलसचिव रमेश कुमार मेहता, विताधिकारी आरके जैन, प्रो. अनिल धर, विजयकुमार शर्मा, ओएसडी दीपाराम खोजा, प्रो. रेखा तिवाड़ी, डाॅ. प्रद्युम्न सिंह शेखावत, डाॅ. मनीष भटनागर, डाॅ. सत्यनारायण भारद्वाज, डाॅ. विकास शर्मा, डाॅ. बलबीर सिंह चारण, कमल कुमार मोदी, डाॅ. पुष्पा मिश्रा, विनोद कस्वां, डाॅ. प्रगति भटनागर, डाॅ. सरोज राय, सुनीता इंदौरिया, सोमवीर सांगवान आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन नोडल अधिकारी डाॅ. भाबाग्रही प्रधान ने किया।

Read 52 times

Latest from