जैन विश्वभारती संस्थान के समाज कार्य विभाग के तत्वावधान में अन्तर्राष्ट एचआईवी व एड्स दिवस के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन

जागरूकता ही बचाव बन कर एड्स फैलने को नियंत्रित कर सकती है- डाॅ. प्रधान

लाडनूँ, 2 दिसम्बर 2020। जैन विश्वभारती संस्थान विश्वविद्यालय के समाज कार्य विभाग के तत्वावधान में अन्तर्राष्ट एचआईवी व एड्स दिवस के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में विभागाध्यक्ष डाॅ. बिजेन्द्र प्रधान ने कहा कि एड्स से भयभीत होने के स्थान पर उसके फैलने के कारणों को जानकार उसका मुकाबला करना चाहिये। अगर हमें इस बारे में भलीभांति पता रहे कि एचआईवी-एड्स किन कारणों से प्रसार पाता है तो हम उन सबसे अपना बचाव कर सकते हैं और इस प्रकार एड्स से बचा जा सकता है। डाॅ. प्रधान ने एड्स के फैलने के समस्त कारणों के बारे में विस्तार से बताया और सावधानी बरतने की आवश्यकतायें बताई। उन्होंने इस बारे में समाज में जागरूकता फैलाने की बात कहते हुये कहा कि जागरूकता इस घातक रोग से बचाव करने के लिये सहायक सिद्ध हो रही है। डाॅ. पुष्पा मिश्रा ने समाज कार्य विभाग के विद्यार्थियों से विभिन्न सामाजिक संस्थाओं, संगठनों, समुदाय आदि से अपने फील्ड वर्क के दौरान जुड़ कर जागरूकता के कार्यों को गति दे सकते हैं। इसके लिये संगोष्ठी, सेमिनार, कार्यशाला, प्रतियोगिताओं आदि अनेक कार्यक्रमों को आयोजित किया जा सकता है। उन्होंने कोरोना के समय में काम करने एवं जागरूकता पैदा करने के बारे में बताया और कहा कि इन सब माध्यमों से एचआईवी-एड्स फैलने से रोका जा सकता है। कार्यक्रम में संकाय सदस्यों के अलावा विद्यार्थी, शोध छात्र, अभिभावक आदि सम्मिलित रहे।

Read 321 times

Latest from